सप्तमी को भादरिया माता मंदिर में भरा मेला,

 सप्तमी को भादरिया माता मंदिर में भरा मेला,
 
लाठी-लाठी क्षेत्र के शक्तिपीठ भादरिया माता मंदिर में नवरात्रि की सप्तमी के अवसर पर श्रद्धालुओं का मेला भरा गया। नवरात्रि के सप्तमी के अवसर पर भादरिया माता के दरबार में सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने पहुंचकर माता के दर्शन किए। मंगलवार सुबह से भादरिया मंदिर के प्रांगण में श्रद्धालुओं की भीड़ देखने को मिली। इस अवसर पर फलोदी, जैसलमेर, पोकरण, लाठी,धोलिया, चांधन, सोढाकोर, मूलाना आदि गांवों से पैदल तथा वाहनों, मोटरसाइकिलों से सैकड़ों श्रद्धालु देर रात्रि तक माता के दरबार पहुंचते रहे। मंगलवार को सुबह 4 बजे से ही मंदिर के आगे सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही जो सुबह तक भादरिया राय माता की आरती के समय तक लगी रही। 
जगदंबा सेवा समिति के सचिव जुगल किशोर आसरा नहीं बताया कि
नवरात्रि के सप्तमी के अवसर पर भादरियाराय माता के मंदिर में मंगलवार को दिन भर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी रही। सप्तमी के अवसर पर मंदिर परिसर में पैर रखने की भी जगह नहीं मिली। भादरिया में दिन भर दर्शनार्थियों ने माता के दरबार में पहुंचकर अमन चैन की खुशहाली की कामना की। दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं को काफी समय तक इंतजार करना पड़ा। मंदिर समिति द्वारा सुबह 4 बजे से मंदिर का मुख्य द्वार खोलकर श्रद्धालुओं के लिए दर्शन करने लिए अलग-अलग से व्यवस्था कर सुविधा पूर्वक दर्शन करवाया गया। शुभमुहूर्त में माता की विधि विधान से पूजा अर्चना की गई। वहीं सैकड़ों की संख्या में उपस्थित श्रद्धालुओं ने मंगल आरती के साथ माता के दरबार में मत्था टेकर देश में अमन चैन की खुशहाली की कामना की। 
वहीं मेले के दौरान व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रेमसिंह,भोमसिंह, महेंद्रसिंह,खेताराम ढोली,रूपसिंह, दानसिंह,देवीसिंह,पप्पूसिंह,कंवराजसिंह का विशेष योगदान रहा।