इंस्पेक्टर ने महिला वकील को भेजा पोर्न वीडियो, हटाने को कहा तो धमकाया |

इंस्पेक्टर ने महिला वकील को भेजा पोर्न वीडियो, हटाने को कहा तो धमकाया |
हरियाणा पुलिस के एक सहायक इंस्पेक्टर की दादागीरी से परेशान एक महिला वकील ने मुख्यमंत्री कार्यालय और राज्य महिला आयोग का दरवाजा खटखटाया है। मामला यौन उत्पीड़न से जुड़ा है जिसमें एक महिला वकील को अश्लील वीडियो भेजे जाने की शिकायत सामने आई है।
 
पंचकूला की वकील पूजा नागरा ने महिला आयोग, मुख्यमंत्री कार्यालय और पुलिस कमिश्नर को दी गई शिकायत में कहा है कि पंचकूला के सेक्टर 5 में कार्यरत सहायक पुलिस इंस्पेक्टर यशपाल ने 27 अक्टूबर को एक व्हाट्सएप ग्रुप में दो अश्लील वीडियो शेयर किए लेकिन जब महिला वकील ने यशपाल को यह वीडियो डिलीट करने को कहा तो वह दादागिरी पर उतर आया। उसने न केवल महिला को जान से मारने बल्कि झूठे मामले में फंसाने की धमकी भी दी।
 
पूजा नागरा के मुताबिक, आग्रह के बाद व्हाट्सएप ग्रुप के एडमिन ने हालांकि पुलिस सब इंस्पेक्टर की ओर से शेयर किए गए वीडियो डिलीट कर दिए और आरोपी इंस्पेक्टर को भी ग्रुप से बाहर कर दिया लेकिन जब वह पुलिस थाने में अपनी शिकायत लेकर गई तो किसी ने उसकी मदद नहीं की।
 
पूजा नागरा के मुताबिक, जब उन्होंने पंचकूला के महिला थाने में फोन किया तो उनको सेक्टर 15 की पुलिस चौकी में मामला दर्ज कराने की सलाह दी गई लेकिन जब वह सेक्टर 15 की पुलिस चौकी में गईं तो वहां पर तैनात पुलिसकर्मी का बर्ताव बेहद निराशाजनक था। उनको कंप्लेंट रखने के लिए कहा लेकिन शिकायत दर्ज नहीं की गई। आरोपी पुलिस इंस्पेक्टर को बचाने में लगे पंचकूला पुलिस कर्मचारियों के व्यवहार से नाराज महिला वकील ने मुख्यमंत्री, महिला आयोग और पुलिस कमिश्नर को अपनी शिकायत दी है।
 
उधर, पंचकूला के पुलिस कमिश्नर अभिषेक जोरवाल ने पीड़िता को भरोसा दिलाया है कि मामले की जांच की जाएगी और अगर सहायक पुलिस इंस्पेक्टर की गलती सामने आई तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। उधर आरोपी सहायक पुलिस इंस्पेक्टर यशपाल ने माना कि उसने व्हाट्सएप ग्रुप में गंदे वीडियो शेयर किए थे लेकिन उन आरोपों से इनकार किया कि उसने महिला वकील को धमकाया। यशपाल के मुताबिक उसने महिला वकील से माफी भी मांगी थी।
 
यह पहली बार नहीं है जब पंचकूला के किसी व्हाट्सएप ग्रुप में अश्लील वीडियो शेयर किए गए हों। पिछले महीने बीजेपी युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष अमित गुप्ता के खिलाफ भी व्हाट्सएप पर अश्लील फोटो शेयर करने का आरोप लगा था जिसे 22 दिन बाद पुलिस ने गिरफ्तार किया था।