भारत सरकार क्रू ड ऑयल व प्राकृतिक गैस का पता लगाने के लिए सेटेलाइट सर्वे शुरू कर कराया गया

 भारत सरकार क्रू ड ऑयल व प्राकृतिक गैस का पता लगाने के लिए सेटेलाइट सर्वे शुरू कर कराया गया
संवाददाता - हैदर अली ( पोकरण-जैसलमेर ) सर्वे कर रही एजेंसी अल्फा इंडिया अभी राजस्थान के जैसलमेर  जिले में ग्राम पंचायत रातड़िया  में सर्वे कर जमीन के भीतर प्राकृतिक संसाधन होने का पता लगा  रही है।
वज्ञैनिकों द्वारा बताया गया है कि जमीन के भीतर  7 किलोमीटर गहराई तक जमीन का एक्सरा किया जा रहा है रातडिया से लेकर लाठी तक ,  सर्वे कराया जा रहा है राजस्थान के  3 जिलों में जोधपुर बाड़मेर ,जैसलमेर तक क्रू ड ऑयल की परत होने की संभावना है। केन्द्र और राज्य शासन की दिलचस्पी के बाद कंपनी ने मप्र में इस कार्य को करने के लिए अल्फा जीईओ इण्डिया लिमिटेड हैदराबाद को जिम्मा सौंप दिया। जिसके द्वारा गुरुवार से जैसलमेर  के रातडिया  क्षेत्र में कार्य भी शुरू कर दिया है।
 
कंपनी के द्वारा शॉटगन से   करके इसकी तलाश की जा रही है।  मशीन से डाटा कलेक्ट करने के बाद बंद किया जा रहा है। यहां पर कार्य कर रहे तकनीकी दल के सदस्यों ने बताया कि एक लाइन विशेष में हाइड्रो कार्बन की खोज की जा रही है।
 
 
गैस का परीक्षण करके यह बताया कि गैस मीथेन है। हालांकि तब भी यहां पर गैस का भंडार होने और उसकी तलाश किए जाने की मांग क्षेत्र के लोगों के द्वारा उठाई गई। जिससे जिले में रिफाइनरी शुरू हो सके।
 
जैसलमेर सहित जिलेवासियों की तैल और गैस होने की संभावनाओं को लेकर 
 
कंपनी के द्वारा हाइड्रो कार्बन की तलाश जिन जिलों में करने की स्वीकृति दी गई है। उनमें जैसलमेर, जोधपुर वह बाड़मेर शामिल है