करधनी में बैंक मैनेजर की पत्नी ही बनी उसकी हत्यारन |

करधनी में बैंक मैनेजर की पत्नी ही बनी उसकी हत्यारन |
करधनी में बैंक मैनेजर की पत्नी ही बनी उसकी हत्यारन |
करधनी में बैंक मैनेजर की पत्नी ही बनी उसकी हत्यारन |

जयपुर   डीसीपी वेस्ट अशोक गुप्ता ने सोमवार को एक प्रेस वार्ता में करधनी थाने में बैंक मैनेजर को गोली मारकर हत्या की वारदात का खुलासा किया उन्होंने बताया इस हत्या के पीछे उसकी पत्नी का षड्यंत्र था जिसमें चार अभियुक्त शामिल हैं उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया उन्होंने बताया बैंक मैनेजर की पत्नी निर्मला यादव और उसके पड़ोसी उमेश शर्मा व्यक्ति से अवैध संबंध के कारण ही बैंक मैनेजर रोशन लाल यादव की हत्या निर्मला देवी अपने प्रेमी उमेश शर्मा पर दबाव बनाकर हत्या करवाई पुलिस की तफ्तीश में मालूम हुआ आज पड़ोस के लोगों ने बताया कि पति-पत्नी में पारिवारिक जीवन में रोज झगड़े हुआ करते थे पूछताछ पर पता चला है की पत्नी के अवैध संबंधों के बारे में बैंक मैनेजर रोशन लाल को मालूम हो गया था जिसकी वजह से दोनों पति-पत्नी में झगड़ा हुआ करता था हत्या के घटनाक्रम में मालूमात करने पर मालूम हुआ था निर्मला देवी और उसके पड़ोसी उमेश शर्मा से शारीरिक संबंध भी बना चुकी थी निर्मला देवी और उमेश शर्मा मिलकर रोशन लाल की हत्या का प्लान किया जिसमें शूटर शिवकांत उर्फ लालू पप्पू कश्यप , विष्णु कश्यप के नाम के बदमाशों से संपर्क किया उन्हें जयपुर ले कर के आया शूटर स्कोर रोशन लाल के मकान के लिए की करवाई हत्या की सुपारी के वश में ₹4लाख में तय हुआ परंतु किन्ही वजह से समझोता नहीं हो पाया बाद में राशि की मांग भरते हुए 15 लाख तक हो गई अंत में उमेश शर्मा ने अपने भाई राहुल शर्मा और भांजे मनीष उर्फ सन्नी को ही हत्या का जिम्मा संभलवाया और 19 तारीख की रात को रोशन लाल यादव की गोली मारकर हत्या कर दी।  पुलिस ने ने पांचों अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जिसमें निर्मला यादव भी शामिल है चार अपराधी अभी पकड़ से दूर है उन्हें भी जल्दी पकड़ लिया जाएगा